विवरण

तेजपत्ता में है कई औषधीय गुण, जानें इसके फायदे

लेखक : Lohit Baisla

भारतीय मसलों में तेजपत्ता का विशेष स्थान है। सामान्य तौर पर इसका इस्तेमाल विभिन्न व्यंजनों की खुशबू बढ़ाने के लिए किया जाता है। हमारे देश में सभी मौसम में तेजपत्ते की मांग बनी रहती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि तेजपत्ता कई औषधीय गुणों से भरपूर है। आइए इस पोस्ट के माध्यम से हम तेजपत्ता से होने वाले लाभ की विस्तार से जानकारी प्राप्त करें।

  • मधुमेह : तेजपत्ता के सेवन से मधुमेह यानी डायबिटीज की समस्या कम हो सकती है। यह रक्त में शक्कर की मात्रा को नियंत्रित करने में सहायक है। यह टाइप 2 डायबिटीज के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद है।

  • सिर दर्द एवं माइग्रेन : तेजपत्ता सिर दर्द को कम करने में भी सहायक है। तेजपत्ता को पानी में पीस कर लेप बना लें। इस लेप को सिर पर लगाने से दर्द कम होता है। तेजपत्ता की तेल से कानों के पीछे मालिश करने से माइग्रन की समस्या दूर होती है।

  • त्वचा रोग : तेजपत्ता को पानी में उबालें। पानी ठंडा होने के बाद इससे चेहरा साफ करें। इससे मुहांसे, दाग-धब्बे, आदि दूर होते हैं।

  • कैंसर : तेजपत्ता में कफेन एसिड, केर्सटिन एवं इयूगिलेन नामक तत्व पाए जाते हैं, जो कैंसर जैसे घातक रोगों से बचाने में सहायक है।

  • हृदय रोग : तेजपत्ता के सेवन से कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रहता है। जिससे हृदय रोगों की संभावना कम हो जाती है।

यह भी पढ़ें :

कोलियस की खेती से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारियां यहां से प्राप्त करें।

हमें उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी। यदि आपको इस पोस्ट में दी गई जानकारी पसंद आई है तो इस पोस्ट को लाइक करें एवं इसे अन्य किसानों के साथ साझा भी करें। जिससे अधिक से अधिक किसान मित्र इस जानकारी का लाभ उठा सकें। इससे जुड़े अपने सवाल हमसे कमेंट के माध्यम से पूछें। पशु पालन एवं कृषि संबंधी अधिक जानकारियों के लिए जुड़े रहें देहात से।

1 लाइक करें

21 February 2022

शेयर करें

कोई टिप्पणी नहीं है

फसल संबंधित कोई भी सवाल पूछें

अधिक जानकारी के लिए हमारे कस्टमर केयर को कॉल करें
कृषि सलाह प्राप्त करें