विवरण

सरसों के बीज उपचारित करने की विधि

लेखक : Soumya Priyam

बीज की बुवाई से पहले बीज उपचार करना आवश्यक है। हालांकि बाजार में इन दिनों बीज पहले से उपचारित होते हैं। लेकिन यदि आपने बाजार से बीज नहीं ली है या यदि आप पिछली फसल की बीज का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इन्हें उपचारित करना आवश्यक है। इस रबी मौसम अगर आप करने जा रहे हैं सरसों की खेती तो बीज उपचारित करने की विधि की जानकारी होना आवश्यक है। आइए इस विषय में विस्तार से जानकारी प्राप्त करें।

रासायनिक विधि से कैसे करें बीज का उपचार?

  • प्रति किलोग्राम बीज को 2 ग्राम कार्बेन्डाजिम या 2 ग्राम थीरम से उपचारित करें।

  • इसके अलावा प्रति किलोग्राम बीज को 3 ग्राम कार्बोक्सिन 17.5% + थायरम 17.5% से उपचारित करें।

जैविक विधि से कैसे करें बीज का उपचार?

  • प्रति किलोग्राम बीज को 5 ग्राम ट्रायकोडर्मा से उपचारित करें।

बीज उपचारित करने के फायदे

  • बीज बेहतर तरीके से अंकुरित होते हैं।

  • फसलों को कई घातक कीटों एवं रोगों से बचाया जा सकता है।

  • बीज के द्वारा होने वाले रोगों पर नियंत्रण होता है।

  • उच्च गुणवत्ता की फसल प्राप्त होती है।

यह भी पढ़ें :

हमें उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी। यदि आपको इस पोस्ट में दी गई जानकारी पसंद आई है तो इस पोस्ट को लाइक करें एवं इसे अन्य किसानों के साथ साझा भी करें। जिससे अधिक से अधिक किसान मित्र इस जानकारी का लाभ उठा सकें। इससे जुड़े अपने सवाल हमसे कमेंट के माध्यम से पूछें।

18 लाइक्स

21 October 2021

शेयर करें

कोई टिप्पणी नहीं है

फसल संबंधित कोई भी सवाल पूछें

अधिक जानकारी के लिए हमारे कस्टमर केयर को कॉल करें
कृषि सलाह प्राप्त करें