विवरण

लीची : दिसंबर महीने में करें यह महत्वपूर्ण कार्य

लेखक : Surendra Kumar Chaudhari

मीठे एवं रसीले लीची के फल प्राप्त करने के लिए वृक्षों एवं बागों को नियमित देखभाल की जरूरत होती है। बागों एवं वृक्षों की जरा सी देखभाल से हम आने वाले मौसम में अधिक पैदावार के साथ उच्च गुणवत्ता के फल प्राप्त कर सकते हैं। अगर आप भी कर रहे हैं लीची की बागवानी तो दिसंबर महीने में किए जाने वाले कुछ महत्वपूर्ण कार्यों की जानकारी यहां से प्राप्त करें।

दिसंबर महीने में लीची की बाग में करें यह कार्य

  • इस महीने से लीची की बाग में सिंचाई करना बंद कर दें। इस समय सिंचाई करने से नई पत्तियां निकलने लगती हैं। जिससे आने वाले मौसम में मंजर कम आते हैं और पैदावार में कमी आती है।

  • वृक्षों में पोषक तत्वों की पूर्ति के लिए प्रति लीटर पानी में 2 ग्राम जिंक सल्फेट मिलाकर छिड़काव करें। इससे मादा फूलों की संख्या में वृद्धि होती है। फलस्वरुप पैदावार में वृद्धि होती है।

  • खरपतवारों में कीटों के पनपने की संभावना अधिक होती है। इसलिए लीची के बागों में खरपतवारों पर नियंत्रण रखें।

  • पत्ती लपेटक कीट पर नियंत्रण के लिए बाग में फेरोमोन ट्रैप लगाएं। इसके साथ ही प्रति लीटर पानी में 1 मिलीलीटर अलान्टो या कराटे मिलाकर छिड़काव करें।

यह भी पढ़ें :

हमें उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी। यदि आपको इस पोस्ट में दी गई जानकारी पसंद आई है तो इस पोस्ट को लाइक करें एवं इसे अन्य किसानों के साथ साझा भी करें। जिससे अधिक से अधिक किसान मित्र इस जानकारी का लाभ उठा सकें। इससे जुड़े अपने सवाल हमसे कमेंट के माध्यम से पूछें।

6 लाइक्स

3 December 2021

शेयर करें

कोई टिप्पणी नहीं है

फसल संबंधित कोई भी सवाल पूछें

अधिक जानकारी के लिए हमारे कस्टमर केयर को कॉल करें
कृषि सलाह प्राप्त करें