विवरण

क्या टिड्डियों के हमले से देश में भुखमरी की समस्या आ सकती है?

लेखक : Lohit Baisla

एक रिपोर्ट के अनुसार इन टिड्डियों की उम्र केवल 90 दिन होती है। हवा में करीब 5,000 फीट की ऊंचाई तक उड़ने में सक्षम यह टिड्डियां अपनी वजन का दुगना खाना बड़े ही आसानी से चट कर सकती हैं। भारत आने से पहले टिड्डियों का यह झुंड अफ्रीका में तबाही मचा चुका है। कुछ खबरों के अनुसार इनके आक्रमण के बाद अफ्रीका में खाने की कमी हो गई है। अब हमारे मन में यह सवाल उठता है कि क्या इनके हमले से हमारे देश में भी खाने की कमी हो सकती है , क्या हम भी दाने - दाने के लिए मोहताज हो सकते हैं? इन सवालों के जवाब आपको थोड़ी राहत जरूर देंगे।

  • हमारे देश के खाद्य भंडारों में अनाजों का भंडारण किया गया है जिसकी देख-रेख फूड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया के द्वारा की जाती है।

  • टिड्डियों के प्रकोप से रबी की फसलों को अधिक नुकसान होता है। भारत के उत्तर पश्चिमी भाग में किसानों ने रबी की फसल पहले ही काट ली है।

  • पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष फसलों की पैदावार अधिक हुई है।

  • भारत सरकार टिड्डियों के हमले से बचने के लिए कीटनाशक के छिड़काव के साथ कई अन्य तरीकों को अपना रही है।

इसलिए हमारे देश में अभी भुखमरी या अकाल जैसे हालत होने की संभावना कम है। हालांकि हम इस बात को नजरअंदाज नहीं कर सकते कि टिड्डियों के झुंड ने कई राज्यों की फसलों को नष्ट कर दिया है।

21 लाइक्स

2 September 2020

शेयर करें

कोई टिप्पणी नहीं है

फसल संबंधित कोई भी सवाल पूछें

अधिक जानकारी के लिए हमारे कस्टमर केयर को कॉल करें
कृषि सलाह प्राप्त करें