विवरण

करेला:चूर्णिल आसिता/ भभूतिया रोग

लेखक : Lohit Baisla

यह फफूँद से होने वाला रोग है, जिसमें पतियों पर सफ़ेद धब्बे बन जाते हैं. संक्रमित पौध का विकास रुक जाता है. यदि समय रहते नियंत्रण नहीं किया गया, तो पतियाँ सुख जाती है. इसके नियंत्रण के लिए प्रति 15 लीटर पानी में एन्ट्राकाल या साफ, 30 ग्रा. तथा पंच, 10 ग्रा.  मिलाकर छिड़काव करें. 6-7 दिनों बाद प्रति 15 लीटर पानी में बूस्टर का 1 टेबलेट और पंच, 10 ग्रा. मिलाकर स्प्रे करा दें.

4 लाइक्स

2 September 2020

शेयर करें

कोई टिप्पणी नहीं है

फसल संबंधित कोई भी सवाल पूछें

अधिक जानकारी के लिए हमारे कस्टमर केयर को कॉल करें
कृषि सलाह प्राप्त करें