विवरण

जैतून : अधिक पैदावार के लिए करें इन किस्में की खेती

लेखक : Lohit Baisla

राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय बाजार में जैतून के फल एवं जैतून के तेल की मांग बढ़ती जा रही है। ऐसे में इसकी खेती किसानों के लिए बहुत लाभदायक साबित हो सकती है। जैतून की खेती मुख्यतः तेल प्राप्त करने के लिए की जाती है। इसके अलावा इसके फलों से अंचार, इत्यादि कई तरह के स्वादिष्ट व्यंजन तैयार किए जाते हैं। कई पोषक तत्व से भरपूर जैतून हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक है। इसकी खेती करने से पहले इसकी कुछ उन्नत किस्मों की जानकारी होना आवश्यक है। आइए जैतून की कुछ उन्नत किस्मों की जानकारी यहां से प्राप्त करें।

  • कोराटीना : इस किस्म के फल मध्यम आकार के होते हैं। पकने के बाद फल बैंगनी रंग के हो जाते हैं। फलों का गूदा हरे रंग का होता है। प्रत्येक पौधे से 10 से 16 किलोग्राम तक पैदावार प्राप्त किया जा सकता है। इस किस्म के जैतून में 22 से 24 प्रतिशत तक तेल की मात्रा पाई जाती है।

  • एस्कोलानो : यह अगेती किस्मों में से एक है। इस किस्म के फल बड़े आकार के होते हैं। पूरा पकने के बाद फलों का रंग बैंगनी से काला हो जाता है। प्रत्येक पौधों से 7 से 10 किलोग्राम तक फलों की पैदावार होती है। इसके फलों में 10 से 17 प्रतिशत तक तेल की मात्रा पाई जाती है।

  • लैक्सिनो : यह देर से पकने वाली किस है। फलों का आकार मध्यम होता है। पकने के बाद फल बैंगनी रंग के हो जाते हैं। फलों का गूदा हरा होता है। प्रत्येक पौधे से 15 से 20 किलोग्राम तक पैदावार प्राप्त किया जा सकता है। इस किस्म के फलों में 26 प्रतिशत तेल की मात्रा पाई जाती है।

  • पैंडोलीनो : यह देर से पकने वाली किस्मों में शामिल है। इस किस्म के पौधों की शाखाएं झुकी हुई होती है। पौधा मध्यम आकार का होता है। फलों का गुदा हरे रंग का एवं गुठली मध्यम आकार की होती है। इस किस्म के फलों में 20 प्रतिशत तक तेल की मात्रा पाई जाती है।

यह भी पढ़ें :

हमें उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी। यदि आपको यह जानकारी पसंद आई है तो इस पोस्ट को लाइक करें। एवं इसे अन्य किसानों के साथ साझा भी करें। जिससे अधिक से अधिक किसान मित्र जैतून की इन किस्मों की खेती करके अच्छा मुनाफा कमा सकें। इससे जुड़े अपने सवाल हमसे कमेंट के माध्यम से पूछें।

11 लाइक्स

2 टिप्पणियाँ

8 November 2021

शेयर करें

कोई टिप्पणी नहीं है

फसल संबंधित कोई भी सवाल पूछें

अधिक जानकारी के लिए हमारे कस्टमर केयर को कॉल करें
कृषि सलाह प्राप्त करें