विवरण

गेहूं की फसल में खरपतवारों पर नियंत्रण के सटीक उपाय

सुने

लेखक : Somnath Gharami

गेहूं की फसल जब 25 से 30 दिनों की हो जाती है तब फसल में खरपतवारों की समस्या बढ़ने लगती है। इस समय अगर चौड़ी पत्ती एवं सकरी पत्ती के खरपतवारों पर नियंत्रण नहीं किया गया तो गेहूं की पैदावार में 30 प्रतिशत तक कमी आ सकती है। अगर आपकी गेहूं की फसल भी हो गई है 25 से 30 दिनों की तो फसल में होने वाले खरपतवारों पर नियंत्रण के तरीके यहां से देखें।

गेहूं की फसल में कैसे करें खरपतवारों पर नियंत्रण

  • चौड़ी पत्ती एवं सकरी पत्ती वाले खरपतवारों पर नियंत्रण के लिए निराई-गुड़ाई करें।

  • 25 से 30 दिनों की फसल में खरपतवारों पर नियंत्रण के लिए प्रति एकड़ खेत में 12 ग्राम पाइरेसोंसल्फुरान एथाइल 70 प्रतिशत का छिड़काव करें। यह दवा बाजार में धानुका केम्पा के नाम से उपलब्ध है।

  • चौड़ी पत्ती के खरपतवारों पर नियंत्रण के लिए प्रति एकड़ भूमि में 600 से 800 ग्राम एट्राटेफ का प्रयोग करें। प्रति लीटर पानी में 1 से 2 ग्राम की दर से एट्राटेफ मिलाएं।

  • इसके अलावा प्रति एकड़ खेत में 200 ग्राम एट्राजिन का भी प्रयोग किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें :

हमें उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी। यदि आपको इस पोस्ट में दी गई जानकारी पसंद आई है तो इस पोस्ट को लाइक करें एवं इसे अन्य किसानों के साथ साझा भी करें। जिससे अधिक से अधिक किसान मित्र इस जानकारी का लाभ उठाते हुए गेहूं की फसल में खरपतवारों पर नियंत्रण कर सकें। इससे जुड़े अपने सवाल हमसे कमेंट के माध्यम से पूछें।

22 लाइक्स

1 टिप्पणी करें

1 December 2021

शेयर करें

कोई टिप्पणी नहीं है

फसल संबंधित कोई भी सवाल पूछें

सवाल पूछें
अधिक जानकारी के लिए हमारे कस्टमर केयर को कॉल करें
कृषि सलाह प्राप्त करें

Ask Help