Beej se bajar tak
 खोजें
 / 
 / 
करेला:सफेद मक्खी/ मच्छर

करेला:सफेद मक्खी/ मच्छर

लेखक - Soumya Priyam | 14/8/2019

रस-चूसक कीट पत्तियों के निचली सतह से रस चूसते हैं. प्रभावित पत्तियाँ पीली होकर नीचे की तरफ धँस जाती है और अंततः सूख कर गीर जाती है. कभी-कभी पत्तियाँ काली भी हो जाती है. इसके नियंत्रण के लिए प्रति 15 लीटर पानी में 5 मिली किलमाईट तथा 5-7 ग्रा. ग्रीनतारा या 15-20 मिली विक्टर और 10 ग्रा. मानिक को मिलाकर छिड़काव करें. 6-7 दिनों बाद प्रति 15 लीटर पानी में 30 ग्रा. साफ या ताकत को घोलकर स्प्रे करा दें.

2 लाइक और 0 कमेंट
यह भी पढ़ें -
करेला:चूर्णिल आसिता/ भभूतिया रोग
करेला:चूर्णिल आसिता/ भभूतिया रोग

कृषि विशेषज्ञ से मुफ़्त सलाह के लिए हमें कॉल करें

farmer-advisory

COPYRIGHT © DeHaat 2022

Privacy Policy

Terms & Condition

Contact Us

Know Your Soil

Soil Testing & Health Card

Health & Growth

Yield Forecast

Farm Intelligence

AI, ML & Analytics

Solution For Farmers

Agri solutions

Agri Input

Seed, Nutrition, Protection

Advisory

Helpline and Support

Agri Financing

Credit & Insurance

Solution For Micro-Entrepreneur

Agri solutions

Agri Output

Harvest & Market Access

Solution For Institutional-Buyers

Agri solutions

Be Social With Us:
LinkedIn
Twitter
Facebook