Details

करेला : मधुमेह रोगियों की सेहत में लाए मिठास

Author : Lohit Baisla

कड़वे स्वाद के कारण कई लोगों को करेला पसंद नहीं होता है। बच्चे तो करेले का नाम सुनकर ही दूर भागने लगते हैं। लेकिन मधुमेह यानी डायबिटीज से पीड़ित व्यक्तियों के लिए करेला का सेवन एक रामबाण औषधि है। कड़वे स्वाद के बावजूद इसके फायदों को ध्यान में रखते हुए हमें अपने आहार में करेला को अवश्य शामिल करना चाहिए। कई व्यक्ति करेले में मौजूद पोषक तत्व एवं इसके सेवन से होने वाले फायदों से अवगत नहीं हैं। आपको शायद यह जान कर हैरानी होगी कि करेला का सेवन सर दर्द, पथरी, पेट में जलन, कमजोर पाचन तंत्र, बवासीर और कैंसर जैसे रोगों में भी लाभदायक है। आइए करेले के फायदे पर विस्तार से जानकारी प्राप्त करें।

मधुमेह के रोगियों के लिए :

  • करेले में पॉलिपेप्टाइड-पी या पी-इंसुलिन पाया जाता है जो प्राकृतिक रूप से शरीर में ब्लड शुगर लेवल को सामान्य रखता है। यह रक्त एवं मूत्र दोनों में शर्करा को नियंत्रित रखता है।

कैसे तैयार करें करेले का जूस?

  • सबसे पहले करेले के छोटे टुकड़े करें और बीज को निकालें। कटे हुए टुकड़े को आधे घंटे तक पानी में रखें। इसके बाद करेले को पीसकर जूस निकालें।

  • इसके कड़वे स्वाद को कम करने के लिए इसमें आधे नींबू का रस एवं शहद डालकर सेवन करें।

  • इसके अलावा 10 ग्राम करेले के रस में शहद मिलाकर रोजाना सेवन करने से मधुमेह नियंत्रित रहता है।

  • आप चाहे तो एक चौथाई कप करेले के रस में समान मात्रा में गाजर का रस मिलाकर भी सेवन कर सकते हैं।

  • पाचन शक्ति में वृद्धि : करेले के सेवन से पाचन शक्ति में वृद्धि होती है। करेले की तासीर ठंडी होती है इसलिए यह गर्मी से होने वाली बीमारियों के उपचार में भी फायदेमंद है।

पथरी रोगियों के लिए :

  • पथरी रोगियों के लिए करेले का रस किसी अमृत से कम नहीं। प्रतिदिन 2 करेले का रस पीने एवं करेले की सब्जी खाने से पथरी गल कर बाहर निकल जाती है।

खूनी बवासीर में राहत :

  • खूनी बवासीर के रोगी कुछ दिनों तक सुबह-शाम एक बड़ा चम्मच करेले के रस में आधा चम्मच शक्कर मिलाकर सेवन करें तो आराम मिलेगा।

त्वचा रोग में लाभदायक :

  • करेले को पीसकर उसका लेप त्वचा पर लगाने से मुहासे, फोड़े, आदि कई त्वचा रोग में आराम मिलता है।

  • इसके साथ ही आग से झुलसी त्वचा पर भी करेले का लेप लगाना कारगर साबित होता है।

मुंह के छालों से आराम :

  • मुंह में छाले होने पर करेले का रस लेकर कुल्ला करने से छाले खत्म हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें :

हमें उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए महत्वपूर्ण साबित होगी। यदि आपको यह जानकारी पसंद आई है तो इस पोस्ट को लाइक करें एवं इसे अन्य मित्रों के साथ साझा भी करें। जिससे अधिक से अधिक व्यक्ति गुणकारी करेले के फायदों से अवगत हो सकें। इससे जुड़े अपने सवाल हमसे कमेंट के माध्यम से पूछें। कृषि संबंधी अन्य रोचक जानकारियों के लिए जुड़े रहें देहात से।

18 Likes

27 April 2021

share

No comments

Ask any questions related to crops

Call our customer care for more details
Take farm advice