Details

कम्पोस्ट खाद कैसे तैयार करें

Author : Surendra Kumar Chaudhari

केमिकल युक्त खाद के लंबे प्रयोग से मिट्टी की उर्वरक क्षमता धीरे - धीरे कम होने लगती है। इससे बचने के लिए कम्पोस्ट खाद एक बेहतर विकल्प है। कम्पोस्ट खाद जैविक पदार्थों के अपघटन से प्राप्त किया जाता है। पोषक तत्वों से भरपूर होने के कारण इसके प्रयोग से पौधों का विकास होता है और फसलों की पैदावार एवं गुणवत्ता में भी वृद्धि होती है। तो चलिए जानते हैं कम्पोस्ट खाद तैयार करने की विधि।

जमीन के ऊपर कचरे का ढेर बना कर भी कम्पोस्ट खाद तैयार कर सकते हैं। लेकिन कम्पोस्ट खाद बनाने की सबसे आसान और प्रचलित विधि है गड्ढा विधि।

  • कम्पोस्ट खाद तैयार करने के लिए ऐसी जगह का चयन करना चाहिए जो छायादार हो और वहां हवा का आवागमन अच्छा हो। इस बात का भी ध्यान रखें कि जगह जल भराव वाली न हो।

  • गड्ढा विधि से कम्पोस्ट खाद बनाने के लिए सबसे पहले 3 मीटर लंबा, 2 मीटर चौड़ा और 1 मीटर गहरा गड्ढा तैयार करें।

  • गड्ढों में चारो तरफ पानी का छिड़काव कर के नम बना लें

  • अब उसमें पुआल, पत्ते, गन्ने एवं अन्य फलों के छिलके या फसल अवशेष, रसोई घर का गलने योग्य कचरे की परत डालें।

  • इसके ऊपर गोबर की एक परत बिछा कर पानी का छिड़काव करें।

  • इसके ऊपर फिर से कचरे की परत फैलाएं।

  • जब गड्ढा भरने लगे तब 15 सेंटीमीटर मिट्टी की परत से उसे बंद कर दें।

  • समय - समय पर पानी डालते रहें। इससे सड़ने - गलने की प्रक्रिया में तेजी आएगी।

  • लगभग 15 दिनों के अंतराल पर गड्ढों में भरे गए कचरे को पलटते रहें।

  • करीब 3 से 4 महीने में आप पोषक तत्वों से भरपूर कम्पोस्ट खाद प्राप्त कर सकते हैं।

42 Likes

8 Comments

2 September 2020

share

No comments

Ask any questions related to crops

Call our customer care for more details
Take farm advice