Details

भिंडी की तुड़ाई

Author : Surendra Kumar Chaudhari

तुड़ाई: लगभग 10 सेंमी. लम्बी भिन्डी का फल तुड़ाई हेतु ठीक पाई जाती है। यदि भिन्डी के फल का अगला हिस्सा आसानी से टूट जाए , तो समझें तोड़ाई का सही अवस्था है। भिन्डी के फल की तोड़ाई 1-2 के अन्तराल पर जरुर करा लें , ऐसा नहीं करने से फल रेशेदार हो जाते हैं। फलों की तोड़ाई सुबह में करना बेहतर होता।

छंटाई: बाजार की माँग व दूरी , फल की लम्बाई को ध्यान में रखते हुए भिन्डी के फलों की छंटाई करनी चाहिए। रेशेदार , उजले , पीले तथा टेढ़े-मेढ़े फलों का छंटाई कर दें। भिन्डी के फलों को बाजार तक पहुचाने के लिए बाँस की टोकरी , कैरेट या लीनो बैग का प्रयोग करना चाहिए।

तोड़ाई के बाद का रख-रखाव: शीतगृह में , भिन्डी को 7-10°C पर 8-10 दिनों तक भंडारण किया जा सकता है।  भिन्डी भंडारण के लिए 95 प्रतिशत आर्दता की जरुरत होती है। ये 7°C से कम और 10°C से ज्यादा तापमान होने पर पीला होने लगता है।

2 September 2020

share

No comments

Ask any questions related to crops

Call our customer care for more details
Take farm advice